Bihar Teacher News : सरकारी शिक्षकों के लिए बड़ी खबर भूलकर भी न करें ये गलती जा सकती है अच्छी नौकरी.

JOIN US
Bihar Teacher News : सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षक अगर प्राइवेट कोचिंग में पढ़ाते पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। शिक्षा विभाग के निर्देश पर जिला शिक्षा विभाग ने सभी जिला निदेशकों को पत्र भेजकर प्रशिक्षक के रूप में पढ़ाने वाले शिक्षकों की सूची उपलब्ध कराने को कहा है.

इस निर्देश के बाद सभी माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों ने लिखित रूप से कहा कि उनके यहां शिक्षण कार्य में कोई शिक्षक नहीं लगा है. जिला शिक्षा विभाग द्वारा तैयार किए गए सभी प्रपत्रों में लिखा है “कोई शिक्षक नहीं।”

इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी अमित कुमार ने बताया कि प्रधानाध्यापकों की रिपोर्ट मिलने के बाद सभी स्कूलों का फिर से निरीक्षण किया जायेगा. अगर किसी शिक्षक का नाम कोचिंग पढ़ाने में आया तो उक्त स्कूल के प्रिंसिपल के खिलाफ कार्रवाई होगी, उन्हें निलंबित भी किया जा सकता है.

पटना में 1017 पंजीकृत कोचिंग संस्थान हैं
जिला शिक्षा विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, पटना जिले में कुल 1017 पंजीकृत कोचिंग संस्थान संचालित हैं. जिसमें एक लाख, 51 हजार,104 बच्चे कोचिंग में नामांकित हैं. बताया जाता है कि नामांकित सभी बच्चे कक्षा 9 से 12 तक के हैं. वहीं 12 हजार छोटे-बड़े कोचिंग संस्थान बिना रजिस्ट्रेशन के संचालित हो रहे हैं.

ऐसे कोचिंग संस्थान हैं जो प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान करते हैं और कुछ केवल कक्षा 9 से 12 तक कोचिंग प्रदान करते हैं। शिक्षा विभाग को पता चला है कि कोचिंग संस्थान में कक्षा 9 से 12 तक के सरकारी स्कूल के शिक्षक भी काम कर रहे हैं. इसके बाद शिक्षा विभाग ने सभी प्रधानाध्यापकों से कोचिंग पढ़ाने वाले शिक्षकों की सूची मांगी.

Leave a comment