China Makes Big Improvement : 14 देशों से घिरे चीन ने सीमा पर की गंभीर तैयारी रात में भी दिन के उजाले जैसा रहेगा माहौल.

JOIN US
China Makes Big Improvement : भारत समेत 14 देशों के साथ जमीनी सीमा साझा करने वाले चीन ने अपनी 700 सीमा चौकियों को राष्ट्रीय बिजली ग्रिड से जोड़ दिया है। साथ ही ये चौकियां लगातार रोशन रहेंगी और वहां जरूरी बुनियादी ढांचा विकसित किया जा सकेगा। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स की वेबसाइट के मुताबिक, इससे सीमा सुरक्षा मजबूत होगी. साथ ही सैनिकों के जीवन स्तर में बदलाव आएगा और उन्हें लाभ मिलेगा. इसके अलावा, बिजली से चलने वाले हथियारों और उपकरणों की अधिकतम तैनाती हासिल की जा सकती है। यह सीसीटीवी कैमरे, ड्रोन आदि के लिए भी उपयोगी होगा। इसके अलावा, बेहतर बिजली आपूर्ति के साथ, यह रात में भी अपनी सीमाओं को रोशन करने में सक्षम होगा.

रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक हमें सीमा चौकियों पर बिजली पैदा करने के लिए सौर, ईंधन और पवन ऊर्जा पर निर्भर रहना पड़ता है। अब राष्ट्रीय ग्रिड से प्रकाश की आपूर्ति की जाएगी और सभी वस्तुओं को लगातार बिजली की आपूर्ति की जाएगी। चाइना सेंट्रल टेलीविज़न के अनुसार, 2023 में इन 700 पोस्टों पर बिजली की आपूर्ति की गई थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि सीमा चौकियों पर बिजली की उपलब्धता से प्रबंधन बेहद आसान हो जाएगा. इनमें से कई हथियारों का उपयोग किसी भी समय किया जा सकता है, जिसके लिए बिजली की आवश्यकता होती है.

अखबार की रिपोर्ट है कि चीन एक बड़ा देश है और इसकी सीमा 14 देशों से लगती है। चीन की सीमा कई क्षेत्रों तक फैली हुई है, जिनमें ऊंचे पहाड़, ऊबड़-खाबड़ इलाके, रेगिस्तान और सुदूर द्वीप शामिल हैं। अब यहां ड्रैगन के आवास की निगरानी करना सुविधाजनक होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि सीमावर्ती इलाकों में बुनियादी ढांचा बनाना कोई आसान काम नहीं है. लेकिन अब यहां बिजली होने से सुविधा होगी. इसके अलावा यह भी जरूरी है कि सीमा पर सैनिक सहज महसूस करें. अब हर समय बिजली उपलब्ध होने से उन्हें सभी सुविधाएं मुहैया करायी जा सकेंगी। खासतौर पर बर्फीले इलाकों में गर्म उपकरणों का इस्तेमाल किया जा सकता है.

चीनी सेना का दावा है कि अगर देश में लगातार बिजली रहेगी तो ऐसे हीटर और गीजर चल सकेंगे. इससे दूरदराज के इलाकों में भी सैनिकों का जीवन आसान हो जाएगा। इसके अलावा, रडार प्रणाली, जिसके लिए बिजली की आवश्यकता होती है, को भी यहां संचालित करना आसान होगा।

Leave a comment